Breaking News

         

Home / सिवान / सिवान / लगातार चौथे दिन हड़ताल पर डटे जिले के कार्यपालक सहायक, सुनसान पड़ा आरटीपीएस काउंटर

लगातार चौथे दिन हड़ताल पर डटे जिले के कार्यपालक सहायक, सुनसान पड़ा आरटीपीएस काउंटर

जिले के कार्यपालक सहायक अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गए हैं गुरुवार को समाहरणालय गेट पर अपने विभिन्न मांग को लेकर चौथे दिन भी हड़ताल पर डटे रहे इस दौरान जिला अध्यक्ष वरुण कुमार रजक ने कहा कि बिहार प्रशासनिक सुधार मिशन सोसायटी द्वारा बनाए गए नियम को तोड़ कर सरकार के द्वारा नया नियम लागू करने का प्रयास किया जा रहा है जिससे साफ जाहिर हो रहा है कि बिहार सरकार कार्यपालक सहायकों के साथ सौतेला व्यवहार का रुख अपना रही है श्री रजक ने कहा कि आज बिहार की डिजिटल बिहार का दर्जा दिलवाने में कार्यपालक सहायक की भूमिका को नकारा नहीं जा सकता है इसके बावजूद भी कर सकता है को देख कर काम करवाया जा रहा है उन्होंने कहा कि 2011 से ही कार्यपालक सहायक लगन के साथ कार्य कर रहे है फिर भी उनके कार्य को नजरअंदाज किया जा रहा है जिला अध्यक्ष ने कहा कि साथी परिषद की बैठक में जो निर्णय लिया गया है वह कार्यपालक सहायक के हित में नहीं है सरकार हमारी 8 सूत्री मांगों को नहीं मानती है तो हम लोगों की यह हड़ताल आगे तक अनिश्चित काल जलती रहेगी मौके पर जिला सचिव विशाल कुमार शर्मा जिला संयोजक बिबेक राही अनुपम कुमार बैठा मुकेश कुमार राकेश कुमार प्रदीप कुमार गौड़ नित्यानंद गिरी सुमंत कुमार अनिल कुमार विनोद कुमार मनोज कुमार रंजन कुमार सहित करीब चार सौ की संख्या में कार्यपालक सहायक धरना प्रदर्शन में शामिल रहे.

कार्यपालक सहायकों की हड़ताल से सुनसान पड़ा आरटीपीएस काउंटर

हड़ताल पर डटे जिले के कार्यपालक सहायक लगातार चौथे दिन गुरुवार को भी अपनी मांगों के समर्थन में आवाज बुलंद करते रहे। शहर में तख्ती-पोस्टर लेकर सरकार विरोधी नारे लगाए। कार्यपालक सहायकों की अनिश्चितकालीन हड़ताल से जिले के प्रखंड कार्यालयों में स्थित आरटीपीएस काउंटर सुनसान पड़ गए है। जाति, आवासीय समेत अन्य प्रमाणपत्र बनवाने के लिए आरटीपीएस काउंटर पर आ रहे लोगों को निराशा हाथ लग रही है। काउंटर बंद होने के कारण बिना आवेदन जमा किए सभी को लौटना पड़ रहा है। इधर, बिहार राज्य कार्यपालक सहायक सेवा संघ के बैनर तले हड़ताल पर डटे कार्यपालक सहायक कलेक्ट्रेट के समीप धरना पर बैठे रहे। कार्यपालक सहायकों ने कहा कि वह अपने अधिकार की लड़ाई लड़ रहे हैं, लेकिन सरकार हमारी मांगों को दरकिनार कर रही है। अध्यक्ष वरुण कुमार रजक ने कहा कि जिला से लेकर पंचायत तक कार्यपालक सहायकों से पेंशन, राशन, किरासन समेत अन्य कार्य कराकर सरकार अपनी पीठ थपथपा रही है, लेकिन सरकार मोटी रकम लेकर बेलट्रान कंपनी से हमारे भविष्य का सौदा कर रही है। आंदोलन कर रहे कार्यपालक सहायकों ने चेतावनी देते हुए कहा कि मांगें नहीं मानी गई तो सभी भूख हड़ताल पर बैठेंगे।

Facebook Comments
siwan news

About admin

Check Also

कोरोना को लेकर बिहार में सभी शिक्षण संस्थानों 12 अप्रैल तक बंद

मुख्यमंत्री के निर्देश के बाद क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप का बड़ा फैसला, 4 अप्रैल से लेकर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: