Breaking News

         

Home / सिवान / भगवानपुर हाट / भगवानपुर : सनकी युवक ने पत्नी और पांच बच्चों को टांगी से काटा, 4 बच्चों की मौत

भगवानपुर : सनकी युवक ने पत्नी और पांच बच्चों को टांगी से काटा, 4 बच्चों की मौत

भगवानपुर : सोमवार की देर रात जिले के भगवानपुर थाना क्षेत्र में एक सनकी युवक ने एक खौफनाक वारदात को अंजाम दिया है। वारदात भी ऐसी की सुन कर आपके रंगोटे खड़े हो जाए। घटना सिवान जिले के भगवानपुर थाना क्षेत्र के बलहा गांव में सोमवार की रात की है। जहाँ एक सनकी युवक ने अपनी पत्‍नी और पांच बच्‍चों को टांगी से काट डाला। जिसमे से चार बच्‍चों की मौत हो चुकी है वही पत्‍नी और एक अन्‍य बच्‍चा गंभीर हालत में हैं। दोनों घायलों का इलाज पटना के पीएमसीएच में कराया जा रहा है। मरने वालों में एक बेटी और तीन बेटे शामिल हैं। आरोपित का कहना है कि उसने वारदात को अंजाम देने के बाद खुद भी जहर खा‍ लिया है। वह खुद पुलिस तक पहुंचा था। अब उसका इलाज सिवान के सदर अस्‍पताल में कराया जा रहा है। उसने पुलिस को कई अजीब बातें बताई हैं, जिससे पता चलता है कि उसका मानसिक संतुलन पूरी तरह बिगड़ा हुआ है।

मेरे अंदर एक हवा प्रवेश कर गई, इसके बाद जो सामने मिला उसे मारता गया : सनकी युवक

सोमवार की देर रात हुई इस खौफनाक वारदात को जो भी सुन रहा है, सन्‍न हो जा रहा है। मरने वालों में बलहा के रहने वाले अवधेश चौधरी की बेटी ज्योति कुमारी (17 वर्ष), तीन बेटे अभिषेक कुमार (15वर्ष), नीतीश कुमार उर्फ भोला (12 वर्ष) और मुकेश (सात वर्ष) शामिल हैं। वहीं पत्नी रीता देवी और एक बेटी अंजली कुमारी पटना पीएमसीएच रेफर हैं। सनकी पति अवधेश चौधरी ने भी मीडिया से बात करते हुए कहा कि मैं टहलने के लिए गया था, तभी अचानक मेरे शरीर में एक हवा प्रवेश कर गई और उसके बाद से मुझे यह लगा कि सामने जो व्यक्ति आएगा उसे मार देना है। इसके बाद मेरे ही बच्चे और पत्नी सामने आए और मैं उन्हें मारता चला गया।

वारदात को अंजाम देने के बाद उसने खुद किया डीएम को फोन

अवधेश ने बताया कि वारदात को अंजाम देने के बाद वह थाना की तरफ चला गया। वहां उसने किसी तरह डीएम का नंबर लिया और कॉल लगाई। उसका कहना है कि डीएम के नंबर पर कॉल रिसीव नहीं होने के बाद वह घर की तरफ लौटने लगा। इसी बीच रास्‍ते में उसे पुलिस गश्ती दल ने रोका तो उसने घटना की जानकारी उन्हें दी। पूरा वाकया सुनकर हैरान पुलिस वालों ने तुरंत उसे अपनी गाड़ी में बैठाया और उसके घर पहुंचे। उसके घर पहुंचने पर पुलिस वालों ने देखा कि वहां चार लोगों के शव खून से लथपथ पड़े हैं। उसकी पत्‍नी और एक बेटे की सांस अभी चल रही थी, जिन्हें पुलिस ने इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया। सदर अस्‍पताल में प्राथमिक उपचार के बाद दोनों की गंभीर स्थिति को देखते हुए बेहतर इलाज के लिए पटना रेफर कर दिया गया।

Facebook Comments
siwan news

About admin

Check Also

शिक्षक दिवस के दिन गांधी मैदान पटना को पाट देंगे नियोजित शिक्षक, लाखों की संख्या में मुँह पर काली पट्टी बांध करेंगे वेदना प्रदर्शन

अमित यादव/सीवान : बिहार राज्य शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति के आह्वान पर बिहार के लाखों …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: