Breaking News

         

Home / सिवान / गुठनी / गुठनी में बने कोरोना राहत कैम्पो में बुनियादी सुविधाओ से वंचित लोगो ने किया जमकर हंगामा

गुठनी में बने कोरोना राहत कैम्पो में बुनियादी सुविधाओ से वंचित लोगो ने किया जमकर हंगामा

गुठनी : गुठनी थाना क्षेत्र के सरैया स्थित आरबीटी विद्यालय में बने अस्थाई कैंप में बुनियादी सुविधाओं को लेकर लोगों ने जमकर हंगामा किया। इस संबंध में मिली जानकारी के अनुसार शनिवार की देर रात यूपी के नोएडा, गौतमबुद्ध नगर, गाजियाबाद, लखनऊ, कानपुर, झांसी, बरेली, गोरखपुर, देवरिया से होकर श्रीकरपुर चेकपोस्ट पहुंचे 83 लोगों को रोककर उन्हें अस्थाई कैंप में रखा गया। इस दौरान कैंप में रहने वाले लोगों का आरोप था कि उन्हें बेवजह यहां रोका गया है। जबकि उनको कोरोना या अन्य कोई भी गंभीर बीमारी नहीं है। उन्होंने बताया कि इसकी कई बार जांच रास्ते में यूपी सरकार द्वारा की गई। इस कैंप में शामिल सीतामढ़ी, मधुबनी, छपरा, सिवान, वैशाली और दरभंगा के लोग शामिल हैं। उनका कहना था कि 83 लोगों में कोई गाजियाबाद, हापुड़, बरेली, नोएडा, गुरुग्राम, हरियाणा और फरीदाबाद से आ रहे हैं।

उनका आरोप था कि अगर वह कोरोना से संक्रमित नहीं है तो उन्हें फिर कैंपों में क्यों रखा गया है। उनका आरोप था कि कैंप में बिजली, पानी और आवश्यक दवाइयों की कमी है। इस कैंप में शामिल लोगों का कहना था कि उन्हें सरकार सुरक्षित उनके घर पहुंचा दे। क्योंकि ऐसे व्यवस्था में बिना बीमार के ही हम बीमार हो जाएंगे।

इसकी सूचना मिलने के बाद बीडीओ धीरज कुमार दुबे,सीओ राकेश कुमार और थानाध्यक्ष मनोरंजन कुमार मौके पर पहुंचकर लोगों को समझाया। इसमें नाराज लोगों ने अधिकारियों से बस घर जाने की मांग करने लगे इसके बाद अधिकारियों का कहना था कि वरीय अधिकारियों से निर्देश मिलने के बाद इस बारे में कुछ निर्णय लिया जा सकता है। मौके पर संदेश कुमार, देवेंद्र कुमार,ललन कुमार, मुकेश कुमार, राजेश मांझी, धर्मेन्द्र प्रसाद, मोतीलाल, राजेंद्र शाह, बलवंत कुमार, धीरज कुमार शामिल थे।

Facebook Comments
siwan news

About admin

Check Also

सड़क दुर्घटना में एक की मौत, दो गंभीर रूप से घायल

गुठनी : गुठनी थाना क्षेत्र के मैरवा मुख्य मार्ग पर केल्हरुआ गांव के समीप सड़क …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: