सिवान। पचरुखी थानाक्षेत्र के सुपौली निवासी छात्रा की गला रेतकर हत्या किए जाने से नाराज स्वजनों ने घटना के दूसरे दिन रविवार को शहर के अस्पताल मोड़ पर रखकर प्रदर्शन किया। वे हत्यारों की पहचान कर गिरफ्तार करने की मांग कर रहे थे। साथ हीं घटनाक्रम की उच्च स्तरीय जांच की भी मांग कर रहे थे। इसके पूर्व परिजनों ने अस्पताल के मुख्य गेट पर भी शव को रखकर प्रदर्शन किया था। सूचना के बाद एसडीपीओ जितेंद्र पांडेय दलबल के साथ मौके पर पहुंचे और परिजनों को जल्द ही अपराधियों की गिरफ्तारी का आश्वासन दिया इसके बाद आक्रोशित परिजन शांत हुए। प्रदर्शन के कारण करीब दो घंटे तक शहर की मुख्य पथ पर आवागमन बाधित रहा तथा लोगों को आने जाने में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा। बता दें कि शनिवार को पचरुखी थाना क्षेत्र के सुपौली निवासी छात्रा की उसके ननिहाल हुसैनगंज थानाक्षेत्र के माहपुर खजरौनी में गला रेतकर हत्या कर दी गई थी।

साथ हीं हत्या के बाद शव को उसके घर के समीप गली में फेंक कर फरार हो गए थे। जानकारी के अनुसार छात्रा के माता-पिता कोलकाता में रहते हैं और वहां दैनिक मजदूरी कर परिवार का भरण पोषण करते हैं, जबकि छात्रा गत रविवार को अपने ननिहाल में इंटर की परीक्षा की तैयारी करने के लिए आई थी। वह आंदर बाजार स्थित एक प्राइवेट कोचिग संस्थान में तैयारी कर रही थी। इसी बीच उसकी हत्या कर दी गई। वहीं दूसरी ओर छात्रा के नाना रामलखन पंडित के आवेदन के आधार पर कांड संख्या 321/19 के तहत प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है। शनिवार को हत्या की गुत्थी सुलझाने के लिए मु•ाफ्फरनगर से पहुंची एफएसएल की टीम महिला वैज्ञानिक जाहिरा वंदी के नेतृत्व में घटनास्थल पर पहुंचकर गहनता से जांच पड़ताल की। साथ ही डॉग स्क्वाड संग टेक्निक सेल से उपेंद्र कुमार ने भी छानबीन की। थानाध्यक्ष ने बताया कि हत्या की गुत्थी जल्द सुलझा ली जाएगी।