सिवान में  गुरुवार को सराय ओपी क्षेत्र के मखदुम सराय स्थित गौसुलवार के समीप बेखौफ अपराधियों ने नगर थाना क्षेत्र के तेलहट्टा निवासी जमीन कारोबारी मो. बाबुजान की दिनदहाड़े गोली मारकर हत्या कर दी, जबकि घटना स्थल के समीप मौजूद एक साइकिल मिस्त्री अपराधियों की गोली से गंभीर रूप से घायल हो गया था। घटना के बाद वहां अफरा-तफरी का माहौल कायम हो गया। बताया जाता है कि गुरुवार को बाबुजान तेलहट्टा स्थित सिमरन ग्लास हाउस दुकान पर बैठा था। इसी बीच दोपहर तीन बजे उसके मोबाइल पर किसी का कॉल आया। कॉल आने के बाद वह अपने साथी तेलहट्टा निवासी रईस के साथ बाइक पर सवार होकर मखदुम सराय की तरफ निकल गया। बाबुजान के मोबाइल पर किसका कॉल आया था, इसके बारे में परिजनों ने कुछ भी नहीं बताया, वहीं पुलिस भी बात की पड़ताल करने में लग गई है कि कॉल करने वाला कौन था।

साथ में मौजूद रईस लापता

जिस समय बाबुजान को अपराधियों ने मौत के घाट उतारा उस समय उसके साथ उसका दोस्त रईस भी मौजूद था। रईस के साथ ही बाबुजान बाइक पर बैठकर मखदुम सराय पहुंचा था, जहां पहले से घात लगाए अपराधियों ने उसे मौत के घाट उतार दिया। बाबुजान की हत्या के बाद रईस लापता है, उसका कोई सुराग खबर प्रेषण तक नहीं मिला था। टाउन इंस्पेक्टर जयप्रकाश पड़ित, सराय ओपी प तथा मुफस्सिल थाना व महादेवा ओपी की पुलिस घटनास्थल पर पहुंचकर स्थानीय लोगों से पूछताछ कर मामले के तह तक पहुंचने की फिराक में लगी थी।

दो भाइयों में बड़ा था बाबुजान :

जानकारी के अनुसार मृतक बाबुजान दो भाइयों में बड़ा था। वह शहर में जमीन खरीद फरोख्त का काम करता था। साथ हीं तेलहट्टा स्थित मिर्चाई साह कब्रिस्तान के सामने सिमरन ग्लास हाउस दुकान चलाता था। घटना की जानकारी मिलते हीं परिजनों में कोहराम मच गया है। परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है।

जमीन विवाद को लेकर हत्या की आशंका :

टाउन इंस्पेक्टर जयप्रकाश पड़ित ने बताया कि व्यवसायी मो. बाबुजान अपने साथी रईस के साथ बाइक से जा रहा था। इसी दौरान मखदुम सराय स्थित गोली मारकर उसकी हत्या की गई है। हत्या के कारणों का अब तक पता नहीं चल रहा है। शुरुआती जांच में जो बात सामने आ रही हैं, उसके मुताबिक किसी जमीन के विवाद को लेकर हत्या की आशंका जताई जा रही है। फिलहाल पुलिस हर बिंदुओं पर जांच कर रही है।

हत्या के बाद दहशत का माहौल:

सराय ओपी क्षेत्र के मखदुम सराय मोहल्ला में हत्या के बाद दशहत का माहौल कायम है। हत्या के बाद लोगों के चेहरे पर भय व्याप्त है। घटना के बाद पुलिस व स्थानीय लोग भी कुछ बोलने से परहेज करते दिखे। आसपास की दुकानें बंद हो गईं थी। वहीं आसपास के लोग दबी जुबा से हत्या का कारण जमीन विवाद बता रहे हैं। सराय ओपी में एक के बाद एक लगातार घटनाएं,पुलिस बनी मुकदर्शक

बता दें कि सराय ओपी का क्षेत्र इन दिनों चर्चा में है। यहां की पुलिस टीम की नाकामयाबी का नतीजा है कि एमएम कॉलोनी में दो दिन पूर्व एक युवक की हत्या कर अपराधियों ने उसके शव को अ‌र्द्ध निर्मित मकान की चारदीवारी में फेंक दिया। घटना के 48 घंटे बीत जाने के बाद भी पुलिस इस हत्याकांड में कौन शामिल है इसके बारे में कोई जानकारी नहीं जुटा पाई है। अभी इस घटना से सराय प्रभारी गोपाल पांडेय उबरे भी नहीं थे कि दिनदहाड़े गुरुवार की शाम अपराधियों ने एक जमीन कारोबारी की गोली मारकर हत्या कर दी। इस मामले में भी पुलिस की लापरवाही सामने दिखी। घटना के बाद पुलिस ने घटना स्थल पर पसरे खून को एफएसएल की टीम के लिए सुरक्षित ना रखते हुए ईंट-पत्थर से घेर दिया और वहां एक लकड़ी से उसे ढंक दिया। वहीं गुरुवार की सुबह भी सड़क दुर्घटना में जिस क्षतिग्रस्त स्कॉर्पियो को पुलिस ने जब्त किया उसमें शराब बरामद होने की बात वहां के स्थानीय लोगों ने बताई, जबकि सराय प्रभारी ने खाली बोतल मिलने की बात कही। ऐसे में सराय ओपी के प्रभारी की कार्यशैली को लेकर अब प्रश्न चिह्न उठने लगा है।