सूत्रों की मानें तो पुलिस मस्तान के आपराधिक रिकॉर्ड को देखते हुए इसे गैंगवार के रूप में देख रही है. पुलिस को इस बात का शक  है की मस्तान की हत्या की कड़ी कही ना कहीं उसके आपराधिक रिकॉर्ड से जुडी हुई है. इसी लिए पुलिस मृत कुख्यात का आपराधिक इतिहास खंगाल रही है।

इस मामले में एसपी नवीन चंद्र झा ने बताया कि छोटे उर्फ मस्तान कुछ दिन पहले ही जेल से छूटा कर बाहर आया था। वह लूट व हत्या के मामले में जेल में बंद था। एक संदिग्ध गिरफ्तार किया गया जिसे पूछताछ किया जा रहा है।

मस्तान की पॉकेट से बरामद गोली