Breaking News

         

Home / सिवान / शिक्षक सहायता कोष को लेकर शिक्षकों में जबरदस्त उत्साह, रोज जुड़ रहे नए सदस्य

शिक्षक सहायता कोष को लेकर शिक्षकों में जबरदस्त उत्साह, रोज जुड़ रहे नए सदस्य

अमित यादव : सिवान के गांधी मैदान से पिछले 2 अक्टूबर को आगाज की गई शिक्षक सहायता कोष ने अपना रंग दिखाना शुरू कर दिया है. आम शिक्षको को सहायतार्थ बने इस संघ से जुड़ने के लिए पूरे प्रदेश के शिक्षकों में जबरदस्त उत्साह नजर आ रहा है. पूरे प्रदेश के शिक्षक इस संघ की सदस्यता ले रहे है. इस बाबत संघ के जिलाध्यक्ष रजनीश कुमार मिश्र ने कहा कि शिक्षकों के हित को ध्यान में रखकर इनके भविष्य को सुरक्षित बनाने के संकल्प के साथ पिछले 2 अक्टूबर गांधी जयंती के शुभ अवसर पर शिक्षकों की एक बैठक गांधी मैदान सिवान में आयोजित की गई जिसमें शिक्षक सहायता कोष की नींव पड़ी. जिसकी औपचारिक शुरुआत 25 अक्टूबर को गांधी मैदान सिवान से की गई. शुरुआत के साथ ही इस सहायता कोष से जुड़ने के लिए शिक्षकों में जबरदस्त उत्साह देखने को मिल रहा है. शिक्षक इसके सदस्य बनने के लिए बढ़-चढ़ कर हिस्सा ले रहे है.

चौतरफा मिल रहा सहयोग

जिलाध्यक्ष श्री मिश्र ने बताया कि इस कार्य में शिक्षकों के साथ-साथ हमें मीडिया व सोशल मीडिया का भी भरपूर सहयोग मिल रहा है जिसके कारण यह सहायता कोष शिक्षकों के बीच तेजी से फैल रहा है और शिक्षक इसके सदस्य बनने के लिए उत्साहित नजर आ रहे है. शिक्षक सहायता कोष शिक्षकों के सुरक्षित भविष्य को ध्यान में रखकर बनाया गया है क्योंकि हमें पता है सरकार नियोजित शिक्षकों के प्रति कैसा सौतेला व्यवहार अपना रही है जहां वेतन का कोई ठिकाना ही नहीं है कि कब आएगा. इस स्थिति में कई शिक्षक पैसे के अभाव में पिछले दिनों काल के गाल मे समा चुके है. इसी को ध्यान में रख सिवान के शिक्षकों के एक समूह ने यह सकंल्प लिया कि अब पैसे के अभाव में एक भी शिक्षक की असमय मृत्यु नही होगी. इस सहायता कोष का गठन आम शिक्षकों के द्वारा किया गया है इसलिये इसमें सभी प्रकार के शिक्षक वह टेट हो या ननटेट शिक्षकों के सहायतार्थ सहायता कोष का सदस्य बन रहे हैं.

Facebook Comments
siwan news

About admin

Check Also

सिवान पुलिस को मिली बड़ी सफलता, अंतरजिला वाहन चोर गिरोह का हुआ भंडाफोड़

अमित यादव : सिवान पुलिस ने उस वक्त एक बड़ी सफलता हाथ लगी जब पुलिस …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!