Breaking News

         

Home / सिवान / हाल-ए-सिवान / सीवान में अमीर बाप की बेटी ने अपने प्रेमी की करायी हत्या, हत्यारोपित ने किया आत्म समर्पण

सीवान में अमीर बाप की बेटी ने अपने प्रेमी की करायी हत्या, हत्यारोपित ने किया आत्म समर्पण

गाडी में एक साथ मीतू और अनामिका
  • गरीबी – अमीरी के बीच प्रेमी व प्रेमिका के प्यार में पड़ा दरार
  • मृतक पूर्व चेयरमेन अनुराधा गुप्ता का बताया जाता है भतीजा
  • वर्षो से अनामिका व मिट्ठु का चल रहा था प्यार
  • मिट्ठु जब छोटा था तो उसके माता – पिता का हो गया था देहांत।

 

पटना डेस्क  (सीवान)। कहते हैं कि इंसान प्यार में पागल हो जाता है। कहने तक के लिए तो ठीक है, लेकिन क्या हो जब सच में अपने पार्टनर को लेकर आपका रवैया अब्सेसिव हो जाए? जाहिर है, ये न तो आपके लिए ठीक है और न ही आपके रिलेशनशिप के लिए। इसलिए इस पर कंट्रोल करना भी जरूरी है। इसके लिए पहले जानें कि कहीं आप भी ‘अब्सेसिव लर्वस’ में से एक तो नहीं है। जिंदगी का एक ऐसा सफ़र जिसमे प्यार ही प्यार का कातिल बन बैठा.  इसका जीता जगता परिणाम सीवान में देखने को मिला। बतादें की 25 जून की रात एक प्रेमिका ने ही अपने प्रेमी को घर बुला कर उसकी हत्या करा दी थी। बताते चले की प्रेमिका घर का नाम लक्ष्मी उर्फ़ अनामिका फतेहपुर बाईपास रोड की रहने वाली है। जबकि प्रेमी शिवाजी नगर के मीतू गुप्ता है। मीतू  जब छोटा था तो उसका माता – पिता उसे छोड़ कर इस दुनिया से चले गए। जिसको कोई न सहारा था उसे नगर परिषद के पूर्व चेयरमैन रेणु कुमारी गुप्ता के घर उनके परिवार के साथ रहने लगा। उनके परिवार से इतना घुल मिल गया की सीवान के चेयरमेन बनते ही रेणु कुमारी गुप्ता ने उसके नाम से शिवाजी नगर में जमीन खरीद कर दे दी। जहां पर बाद में उसका घर बना वह रहने लगा। रेणु कुमारी गुप्ता पटना से वापस आ रही थी किसी सम्मेलन में भाग लेकर तभी अचानक वह सड़क दुर्घटना का शिकार हो गई। जिसके बाद फिर नगर परिषद का चुनाव हुआ। जिसमे रूनी कुमारी गुप्ता की भाभी अनुराधा गुप्ता जीत कर चेयरमेन के पद पर आसीन हुई। तो मीतू अब इनके साथ रहने लगा।
इसी क्रम में एक युवती से मीतू को प्यार हो गया। जो काफी दिनों तक चला। बताया जाता है की मीतू अनामिका से बेइंतिहा प्यार करता था। जिसकी जानकारी लड़की के परिजनों को हुई तो इसका विरोध करने लगे। उसके दोस्तों की मने तो ये भी दावा किया जा रहा है की मीतू ने परिजनों से बिना बताय दो वर्ष पूर्व मन्दिर में अनामिका से शादी भी रचा लिया था। दोनों कुछ दिनों तक साथ रहे। कई दिनों तक अनामिका को मीतू  अपने वाहन से विभिन्न तीर्थ स्थल पर ले जाकर घुमाया दोनों प्रेमी – प्रेमिका एक ही जाति के होने के बावजूद भी लड़की के माता – पिता इस रिश्ते से खुश नहीं थे। लड़के के माता-पिता का न होना इसका कमी लड़की को खलने लगा। लड़की सम्पन परिवार की व लड़का बेसहारा देख लड़की ने भी उसे सारे गीले शिकवे भुला कर छोड़ दिया। गरीबी अमीरी के बिच का खाई बिच रास्ते में ही दरार पड़ गयी।

लड़की के पिता विजय गुप्ता सीवान गल्ला मंडी में होल सेल चावल व किरना स्टोर के समान बिक्री करते है। उन्हें इस लड़का- लड़की का प्यार नही भाया। उन्होंने अपनी लड़की के शादी छपरा के अच्छे फैमिली में 16 अप्रैल 2017 को अनिल गुप्ता के साथ बड़े ही धूमधाम से कर दी। शादी के बाद प्यार में पागल युवक मीतू  ने जहरीला पदार्थ खाकर आत्म हत्या करना चाहा। उसकी स्थिती खराब होते ही उसे पटना भर्ती कराया गया। जहा चिकित्सको ने इलाज कर उसकी जान बचाई। ठीक होने के बाद लड़की से दबाव बनाने लगा की प्लीज मुझसे शादी कर लो। जिसपर लड़की ने नकार दिया। नकारने के बाद उसके प्रेमी युवक मीतू  ने अनामिका के पति को व्हाट्सऐप पर कुछ आपत्ति जनक तस्वीर वायरल कर दी। जिससे अनामिका का पति अनिल गुप्ता ने तलाक करने की बात कही।
जिससे लड़की के परिजन आग बबुला हो गए। साथ ही युवती भी अपने प्रेमी से गुस्सा गयी। उसकी जानकारी लड़की के भाई रोहित गुप्ता को मिलते ही उसे प्यार से तरवारा मोड़ बुलाया जहां पर पहले से मौजूद 10 से 12 के संख्या में खड़े युवको ने उसे जमकर धुनाई की। जिसके बाद उसका मोबाइल लेकर सारा फोटो डिलिट कर दिया। वहा पर मौजूद आसपास के लोगो ने तो उसे बचा लिया। लेकिन होनी को कौन रोक सकता है। उसी दिन मिट्ठु के प्रेमिका अनामिका ने उसे प्यार से घर बुलाया घर में बंद कर अपने परिजनों के साथ मिल कर हत्या कर दी। उसके बाद शव को सड़क पर फेंक दिया।
घटना की जानकारी होते ही पूर्व चेयरमेन अनुराधा गुप्ता अपने समर्थकों के साथ पहुच कर सड़क जाम की। साथ ही हत्यारों को गिरफ्तार करने की मांग पर डटी रही। उसी दिन मृतक मीतू  के प्रेमिका अनामिका व उसकी माँ मालती देवी को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। वही घटना में शामिल एक अभियुक्त फरार चल रहा था जो बुधवार को सीजेएम के समक्ष आत्म समर्पण कर दिया। जिसे पुलिस गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। मृतक के प्रेमिका अनामिका तीन भाई व चार बहनो में सबसे बड़ी है।
जिसका शादी उसके पिता काफी धूमधाम से करना चाह रहे थे। उनके फैमिली के हिसाब से मीतू नही पसंद था। अनामिका के परिजन को बिना माता – पिता का लड़का पसंद नही था। वह इसलिए शादी से इंकार कर दिए। हालांकि लड़की मिट्ठु से शादी कर उसके साथ रहना चाहती थी लेकिन अपने माता – पिता का भी बात नही कटी जिसका परिणाम रहा सिर्फ हत्या। प्रेम में पागल मीतू ने अपना नौकरी छोड़ सीवान रहने लगा। मीतू  मर्चेट नेवी में था। नौकरी छोड़ कर आने के बाद अनुराधा गुप्ता के साथ रहने लगा। साथ ही उनके समय काफी पैसा भी कमाया। जिसका देन है की सीवान में अपना घर भी अच्छा बनवाया। उनके साथ रहने से लोग उनका भतीजा ही जातने है। पूर्व चेयरमेन के काम काज को संभालता था। साथ ही उन्हें कही भी जाना होता था तो ड्राविंग भी करता था और उनके परिवार का हिस्सा बन गया था.

Facebook Comments

About Purushotam Mishra

Check Also

सदर अस्पताल में बूंद-बूंद को तरस रहे मरीज़, वाटर एटीएम ठप्प

अमित यादव /सिवान: सिवान सदर अस्पताल जिले का सबसे बड़ा और मुख्य अस्पताल है. जहाँ …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!